Yaad Shayari In Hindi | याद शायरी

Yaad Shayari In Hindi | याद शायरी

 

बहुत मुश्किल से करते हैं तेरी यादों का कारोबार,
मुनाफा कम ही सही मगर गुजारा हो ही जाता है

 

Bahut Mushkil Se Karte Hai Teri Yaadon Ka Karobaar

Munaafa Kam Hi Sahi Magar Guzaara Ho Hi Jaata Hai

 

उस की याद आई है साँसो ज़रा आहिस्ता चलो
धड़कनों से भी इबादत में ख़लल पड़ता है -राहत इंदौरी

 

Us Ki Yaad Aayi Hai Sanso Zara Aahista Chalo

Dhadkano Se Bhi Ibadat Me Khalal Padhta Hai -Rahat Indori

 

लफ्ज़, अल्फाज़, कागज़ और किताब,
कहाँ कहाँ नहीं रखता मैं तेरी यादों का हिसाब

 

Lafz, Alfaaz, Kagaz Aur Kitaab

Kahan-Kahan Nahi Rakhta Mai Teri Yaadon Ka Hisaab

 

Teri Yaad Shayari

 

कर रहा था ग़म-ए-जहाँ का हिसाब,
आज तुम याद आये तो बेहिसाब आये – Faiz Ahmad Faiz

 

Kar Raha Tha Gum-e-Jahan Ka Hisaab

Aaj Tum Yaad Aaye To Be-Hisaab Aaye

 

फिर पलट रही हैं सर्दियों की सुहानी रातें,
फिर तेरी याद में जलने के जमाने आ गए

 

Phir Palat Rahi Hai Sardiyon Ki Suhaani Raatein

Phir Teri Yaad Me Jalne Ke Zamane Aaye

 

अब तो हर बात याद रहती है
ग़ालिबन मैं किसी को भूल गया-जौन एलिया

 

Ab Toh Har Baat Yaad Rehati Hai

Ghaliban Mai Kisi Ko Bhool Gaya -John Elia

 

एक कतरा ही सही आँख में पानी तो रहे
ऐ मोहब्बत तेरे होने की निशानी तो रहे

 

Ek Katra Hi Sahi Aankh Me Paani Toh Rahe

Ae Mohabbat Tere Hone Ki Nisaani Toh Rahe

 

Yaad Shayari 2 Lines

 

ज़िंदगी क्या हुए वो अपने ज़माने वाले
याद आते हैं बहुत दिल को दुखाने वाले -अख़्तर सईद ख़ान

 

Zindagi Kya Hue Wo Apne Zamane Waale

Yaad Aate Hai Bahut Dil Ko Dukhane Waale -Akhtar Saeed Khan

 

नहीं है कुछ भी मेरे दिल में सिवा उसके,
मैं उसे अगर भुला दूँ तो याद क्या रखूँ

 

Nahi Hai Kuch Bhi Mere Dil Me Siva Uske

Mai Use Agar Bhula Du Toh Yaad Kya Rakhu

 

उन का ज़िक्र उन की तमन्ना उन की याद
वक़्त कितना क़ीमती है आज कल -शकील बदायुनी

 

Un Ka Zikr Un Ki Tamanna Un Ki Yaad

Wakt Kitna Keemati Hai Aaj Kal -Shakeel Badayuni

 

आखिर थक हार के, लौट आया मै बाज़ार से

यादो को बंद करने के ताले कही मिले नही

 

Aakhir Thak Haar Ke, Laut Aaya Mai Bazaar Se

Yaadon Ko Band Karne Ke Taale Kahin Mile Nahi

 

Yaad Shayari In Hindi 140

 

उन का ग़म उन का तसव्वुर उन की याद
कट रही है ज़िंदगी आराम से-महशर इनायती

 

Un Ka Gum Un Ka Tasavvur Un Ki Yaad

Kat Rahi Hai Zindagi Araam Se -Mehshar Inayati

 

नींद को आज भी शिकवा है मेरी आँखों से,
मैंने आने न दिया उसको तेरी याद से पहले

 

Nind Ko Aaj Bhi Shikwa Hai Meri Aankho Se

Maine Aane N Diya Usko Teri Yaadon Se Pehale

 

Yaad Shayari In Hindi | याद शायरी

 

कुछ बिखरी हुई यादों के क़िस्से भी बहुत थे
कुछ उस ने भी बालों को खुला छोड़ दिया था -मुनव्वर राना

 

Kuch Bikhri Hui Yaadon Ke Kisse Bhi Bahut The

Kuch Usne Bhi Baalon Ko Khula Chod Diya Tha -Munavvar Rana

 

वही फिर मुझे याद आने लगे हैं
जिन्हें भूलने में ज़माने लगे हैं-ख़ुमार बाराबंकवी

 

Wahi Phir Mujhe Yaad Aane Lage Hai

Jinhe Bhoolne Me Zamane Lage Hai -Khumaar Barabankvi

 

सिलसिला आज भी वही जारी है,
तेरी याद, मेरी नींदों पर भारी है

 

Silsila Aaj Bhi Wahi Jaari Hai

Teri Yaad, Meri Nindo Par Bhaari Hai

 

Yaad Bhari Shayari In Hindi

 

किसी सबब से अगर बोलता नहीं हूँ मैं
तो यूँ नहीं कि तुझे सोचता नहीं हूँ मैं-इफ़्तिख़ार मुग़ल

 

Kisi Sabab Se Agar Bolata Nahin Hu Mai

Toh Yun Nahi Ki Tujhe Sochata Nahi Hu Mai -Iftikhaar Mugal

 

बीते लम्हों की यादें जरा संभाल के रखना 

हम याद तो आयेंगे पर लौट  के नहीं 

 

Beete Lamho Ki Yaadein Zara Sambhal Ke Rakhna

Hum Yaad Toh Aayenge Par Laut Ke Nahi

 

हम उसे याद बहुत आएँगे
जब उसे भी कोई ठुकराएगा-क़तील शिफ़ाई

 

Hum Use Bahut Yaad Aayenge

Jab Use Bhi Koi Thukraayega -Qateel Shifaai

 

Yaad Shayari In Hindi For Boyfriend

 

बैठे थे अपनी मस्ती में कि अचानक तड़प उठे,
आ कर तुम्हारी याद ने अच्छा नहीं किया

 

Baithe The Apni Masti Me Ki Achanak Tadap Uthe

Aa Kar Tumhari Yaadon Ne Achcha Nahi Kiya

 

दुनिया के सितम याद न अपनी ही वफ़ा याद
अब मुझ को नहीं कुछ भी मोहब्बत के सिवा याद -जिगर मुरादाबादी

 

Duniya Ke Sitam Yaad N Apni Hi Wafa Yaad

Ab Mujh Ko Nahi Kuch Bhi Mohabbat Ke Siva Yaad – Jigar Mooradabadi

 

वो अपनी जिंदगी में हो गए मसरूफ इतने,
किस किस को भूल गए अब उन्हें भी याद नहीं

 

Wo Apni Zindagi Me Ho Gaye Mashroof Itne

Kis-Kis Ko Bhool Gaye Ab Unhe Bhi Yaad Nahi

 

Shayari On Yaad

 

उजाले अपनी यादों के हमारे साथ रहने दो
न जाने किस गली में ज़िंदगी की शाम हो जाए -बशीर बद्र

 

Ujaale Apni Yaadon Ke Hamare Sath Rehne Do

N Jaane Kis Gali Me Zindagi Ki Shaam Ho Jaaye -Bashir Badr

 

बड़ी गुस्ताख है तुम्हारी याद इसे तमीज सिखा दो,
दस्तक भी नहीं देती और दिल में उतर जाती है

 

Badi Gustaakh Hai Tumhari Yaad Use Tameej Sikha Do

Dastak Bhi Nahi Deti Aur Dil Me Utar Jaati Hai

 

कौन उठाएगा तुम्हारी ये जफ़ा मेरे बाद
याद आएगी बहुत मेरी वफ़ा मेरे बाद-अमीर मीनाई

 

Kaun Uthayega Tumhari Ye Zafa Mere Baad

Yaad Aayegi Bahut Meri Wafa Mere Baad -Ameer Meenaai

 

Romantic Yaad Shayari

 

दुनिया में हैं काम बहुत
मुझ को इतना याद न आ -हफ़ीज़ होशियारपुरी

 

Duniya Me Hai Kaam Bahut

Mujh Ko Itna Yaad N Aa -Hafeez Hoshiyaarpuri

 

दिल को छू जाती है यूँ रात की आवाज़ कभी,
चौंक उठते हैं कहीं तूने पुकारा ही न हो

 

Dil Ko Chu Jaati Hai Yun Raat Ki Awaaj Kabhi

Chauk Uthate Hai Kahin Tune Pukaara Hi N Ho

 

ठहरी ठहरी सी तबीअत में रवानी आई
आज फिर याद मोहब्बत की कहानी आई -इक़बाल अशहर

 

Thehar-Thehari Si Tabiyat Me Rawaani Aayi

Aaj Phir Yaad Mohabbat Ki Kahani Aayi-Iqbal Ashahar

 


Read More –