Rishta Shayari In Hindi | रिश्ता शायरी

Rishta Shayari In Hindi | रिश्ता शायरी

Rishta Shayari In Hindi | रिश्ता शायरी

 

Rishta Shayari In Hindi | रिश्ता शायरी

 

हरे दरख़्त का शाख़ों से रिश्ता टूट गया
हवा चली तो गुलाबों से रिश्ता टूट गया – अज़हर नैयर

 

Hare Darakhton Ka Sakahon Se Rishta Toot

Hawa Chali Toh Gulabon Se Rishta Toot Gaya – Azahar Naiyar

 

रिश्ता-ए-उल्फ़त तुम क्या जानो
दर्द-ए-मोहब्बत तुम क्या जानो – फ़रमान ज़ियाई सिरोजनी

 

Rishta – e – Ulfat Tum Kya Jaano
Dard – e – Mohabbat Tum Kya Jaano – Farmaan Jiyayi Sirojani

 

Rishta Shayari In Hindi | रिश्ता शायरी

 

अपन रिश्ता ज़मीं से ही रक्खो
कुछ नहीं आसमान में रक्खा -जॉन एलिया

 

Apna Rishta Zameen Se Hi Rakho
Kuch Nahi Aasmaan Me Rakkha – John Elia

 

Rishta Shayari In Hindi | रिश्ता शायरी

 

दुश्मनी लाख सही ख़त्म न कीजे रिश्ता
दिल मिले या न मिले हाथ मिलाते रहिए – निदा फ़ाज़ली

 

Dushmani Laakh Sahi Khatm N Kije Rishta
Dil Mile Ya N Mile Hath Milaate Rahiye – Nida Fasali

 

Rishta Shayari In Hindi | रिश्ता शायरी

 

रिश्ता बदन का ख़त्म हुआ अपनी जान से
मिलती है शक्ल शहर की मेरे मकान से – नस्र ग़ज़ाली

 

Rishta Badan Ka Khatm Hua Apni Jaan Se
Milati Hai Shakl Shehar Ki Mere Makaan Se – Nasn Ghazali

 

Rishta Shayari In Hindi | रिश्ता शायरी

 

मैं केवल अब ख़ुद से रिश्ता रक्खूँगा
या’नी मैं अब ख़ुद को तन्हा रक्खूँगा – अमित शर्मा मीत

 

Mai Kewal Ab Khud Se Rishta Rakhunga
Yaani Mai Ab Khud Ko Tanha Rakhunga – Amit Sharma Meet

 

ग़म से मंसूब करूँ दर्द का रिश्ता दे दूँ
ज़िंदगी आ तुझे जीने का सलीक़ा दे दूँ – अली अहमद जलीली

 

Gum Se Mansoob Karu Dard Ka Rishta De Du
Zindagi Aa Tujhe Jine Ka Salika De Du – Ali Ahmad Jalili

 

Rishta Shayari In Hindi | रिश्ता शायरी

 

नींद से रिश्ता कोई जोड़ा नहीं
ख़्वाब तो हम ने कभी देखा नहीं – प्रेम ढींगरा भटनेरी

 

Nind Se Rishta Koi Joda Nahi
Khwaab Toh Hamne Kabhi Dekha Nahi – Prem Dhingara Bhatneri

 

तेरे मेरे बीच नहीं है ख़ून का रिश्ता फिर भी क्यूँ
तेरी आँख के सारे आँसू मेरी आँख से बहते हैं – प्रेम भण्डारी

 

Tere Mere Beech Nahi Hai Khoon Ka Rishta Phir Kyun
Teri Aankh Ke Saare Aansu Meri Aankh Se Bahate Hai – Prem Bhandari

 

Shayari On relation

 

Rishta Shayari In Hindi | रिश्ता शायरी

 

ख़्वाब और नींदों का ख़त्म हो गया रिश्ता
मुद्दतों से आँखों में रत-जगों का मौसम है – सय्यदा नफ़ीस बानो शम्अ

 

Khwaab Aur Nindo Ka Khatm Ho Gaya Rishta
Muddaton Se Aankho Me Rat-Jagon Ka Mausam Hai – Sayeda Nafees Baano Shama

 

Rishta Shayari In Hindi | रिश्ता शायरी

 

ग़मों से रिश्ता है अपना भी दोस्ती की तरह
मिले हैं अश्क भी हम को यहाँ हँसी की तरह – रईस अख़तर

 

Gumon Se Rishta Hai Apna Bhi Dosti Ki Tarah
Mile Hai Ashq Bhi Hum Ko Yahan Hasi KiTarah  – Raees Akhtar

 

पचास सालों में दो इक बरस का रिश्ता था
मिरी वफ़ा से तुम्हारी हवस का रिश्ता था – रज़ा अश्क

 

Pachaas Saalon Me Do Baras Ka Rishta Tha
Meri Wafa Se Tumhari Hawas Ka Rishta Tha – Raza Ashq

 

ख़्वाब का रिश्ता हक़ीक़त से न जोड़ा जाए
आईना है इसे पत्थर से न तोड़ा जाए – मलिकज़ादा मंज़ूर अहमद

 

Khwaab Ka Rishta Haqiqat Se N Joda Jaaye
Aaina Hai Ise Patthar Se N Toda Jaaye – Malikjada Manjoor Ahmad

 

Rishta Shayari In Hindi | रिश्ता शायरी

 

उन दिनों घर से अजब रिश्ता था
सारे दरवाज़े गले लगते थे – मोहम्मद अल्वी

 

Un Dino Ghar Se Ajab Rishta Tha
Saare Darwaaje Gale Lagte The – Mohammad Alvi

 

 Shayari on Rishte

 

कोई रिश्ता पुराना हो गया है
तुम्हें देखे ज़माना हो गया है – माधो कौशिक

 

Koi Rishta Puraana Ho Gaya Hai
Tumhe Dekhe Zamana Ho Gaya Hai – Madho Kaushik

 

Rishta Shayari In Hindi | रिश्ता शायरी

 

उदास धूप से रिश्ता बहाल करने में
दरख़्त सूख गए ये कमाल करने में – शाहनवाज़ अंसारी

 

Udaas Dhoop Se Rishta Bahaal Karne Me
Darakht Sookh Gaye Hai Ye Kamaal Karne Me – Shahanwaaz Ansari

 

अंधेरों से मिरा रिश्ता बहुत है
मैं जुगनूँ हूँ मुझे दिखता बहुत है – मालिकज़ादा जावेद

 

Andheron Se Mera Rishta Bahut Hai
Mai Jugnoo Hu Mujhe Dikhta Bahut Hai – Malikjada Javed

 

दर्द से अगर रिश्ता दोस्त का निकल आए
ग़म में मुस्कुराने का रास्ता निकल आए – नज़्मी सिकंदराबादी

 

Dard Se Agar Rishta Dost Ka Nikal Aaye

Gum Me Muskurane Ka Raasta Nikal Aaye – Nazmi Sikandarabaadi

 

रिश्ता बहाल काश फिर उस की गली से हो
जी चाहता है इश्क़ दोबारा उसी से हो – इरशाद ख़ान सिकंदर

 

Rishta Bahaal Kash Phir Uski Gali Se Ho
Ji Chahata Hai Ishq Dobara Usi Se Ho – Irshad Khaan Sikandar

 

हर इक लम्हे की रग में दर्द का रिश्ता धड़कता है
वहाँ तारा लरज़ता है जो याँ पत्ता खड़कता है – अब्दुल अहद साज़

 

Har Ik Lamhe Ki Rag Me Dard Ka Rishta Dhadakata Hai
Wahan Taara Larajata Hai Jo Yahan Patta Khadakata Hai – Abdul Ahad Saaz

 

यूँ भी तो रिश्ता जो था वो बचा लिया जाता
बढ़ा के हाथ जो उन से मिला लिया जाता – सतीश दुबे सत्यार्थ

 

Yun Bhi Toh Rishta Jo Tha Wo Bacha Liya Jaata
Badha Ke Hath Jo Unse Mila Liya Jaata – Satish Dubey Yathartha

 

Rishta Shayari In Hindi | रिश्ता शायरी

 

कोई टूटा हुआ रिश्ता न दामन से उलझ जाए
तुम्हारे साथ पहली बार बाज़ारों में निकला हूँ – ज़ुबैर रिज़वी

 

Koi Toota Hua Rishta N Daman Se Ulajh Jaaye
Tumhaare Sath Pahli Baar Baazaron Me Nikla Hu – Zubair Rizvi

 

ये न सोचा था कड़ी धूप से रिश्ता भी तो है
सिर्फ़ दरिया ही नहीं राह में सहरा भी तो है – राशिद अनवर राशिद

 

Ye N Socha Tha Kadi Dhoop Se Rishta Bhi Toh Hai
Sirf Dariya Hi Nahi Raah Me Sehara Bhi Toh Hai – Rashid Anwar Rashid

 

Rishta Shayari In Hindi | रिश्ता शायरी

 

एक रिश्ता जिसे मैं दे न सका कोई नाम
एक रिश्ता जिसे ता-उम्र निभाए रक्खा – अक्स समस्तीपुरी

 

Ek Rishta Jise Mai De N Saka Koi Naam
Ek Rishta Jise Ta-Umr Nibhaye Rakkha – Aks Samastipuri

 

उस से मेरा तो कोई दूर का रिश्ता भी नहीं
और ये भी है कि वो शख़्स पराया भी नहीं – ज़फ़र अंसारी ज़फ़र

 

Us Se Mera Toh Koi Rishta Bhi Nahi
Aur Ye Bhi Hai Ki Wo Shaksh Paraya Bhi Nahi – Zafar Ansari Zafar

 

तेरा मेरा कोई रिश्ता तो नहीं है लेकिन
मैं ने जो ख़्वाब में देखा है कोई देख न ले – जावेद सबा

 

Tera Mera Koi Rishta Toh Nahi Hai Lekin
Maine Jo Khwaab Me Dekha Hai Koi Dekh N Le – Javed Saba

 

नया इक रिश्ता पैदा क्यूँ करें हम
बिछड़ना है तो झगड़ा क्यूँ करें हम – जौन एलिया

 

Naya Ik Rishta Paida Kyu Karein Hum
Bicharana Hai Toh Jhagada Kyu Karein Hum – John Elia

 

अजीब उस से भी रिश्ता है क्या किया जाए
वो सिर्फ़ ख़्वाबों में मिलता है क्या किया जाए – समीर कबीर

 

Ajeeb Us Se Bhi Rishta Hai Kya Kiya Jaaye
Wo Sirf Khwaabon Me Milta Hai Kya Kiya Jaaye – Sameer Kabir

 


Read More –