Raat Shayari In Hindi | रात शायरी

Raat Shayari In Hindi | रात शायरी

 

गुल करो शम्अ, रख दो पैमाना
आज की रात हम को सोने दो – कैफ़ी आज़मी

 

Gul Kari Shamaa,Rakh Do Paimana

Aaj Ki Raat Humko Sone Do – Kaifi Aazami

 

रात की बात ही क्या रात गई बात गई
रात के ख़्वाब कहीं दिन को नज़र आते हैं – हनीफ़ फ़ौक़

 

Raat Ki Baat Hi Kya Raat Gayi, Baat Gayi

Raat Ke Khwaab Kahin Din Ko Nazar Aate Hai – Haneef Fauk

 

रात ख़ुद पर रो रही है
सुब्ह शायद हो रही है – मीनू बख़्शी

 

Raat Khud Par Ro Rahi Hai

Subah Shayad Ho Rahi Hai – Meenu Bakhsi

 

Raat Urdu Shayari

 

ये रात काटती रहती है सुब्ह तक मुझ को
न जाने कैसे मैं हर रात काट देता हूँ – मुईद रशीदी

 

Ye Raat Katati Rehti Hai Subah Tak Mujhko

N Jaane Kaise Mai Har Raat Kaat Deta Hu – Mueed Rashidi

 

रात को जीत तो पाता नहीं लेकिन ये चराग़
कम से कम रात का नुक़सान बहुत करता है – इरफ़ान सिद्दीक़ी

 

Raat Ko Jeet Toh Paata Nahi Lekin Ye Charaag

Kam Se Kam Raat Ka Nuksaan Bahut Karta Hai – Irfaan Siddiqui

 

रात आ कर गुज़र भी जाती है
इक हमारी सहर नहीं होती – इब्न-ए-इंशा

 

Raat Aa Kar Guzar Bhi Jaati Hai

Ik Hamari Sahar Nahi Hoti – Ibn-e-Inshaa

 

Raat Shayari In Hindi | रात शायरी

 

रात बीती तो ये यक़ीं आया
जिस को आना था वो नहीं आया

 

Raat Beeti Toh Ye Yakeen Aaya

Jis Ko Aana Tha Wo Nahi Aaya

 

रात भर ख़्वाब देखने वाले
दिन की सच्चाइयों में चीख़ उठे – नसीर अहमद नासिर

 

Raat Bhar Khwaab Dekhne Waale

Din Ki Sachchaiyon Me Cheekh Uthe – Naseer Ahmad Naasir

 

रात का इंतिज़ार कौन करे
आज कल दिन में क्या नहीं होता बशीर बद्र

 

Raat Ka Intezaar Kaun Kare

Aaj Kal Din Me Kya Nahi Hota – Bashir Badr

 

रात आई तो तड़पने के बहाने आए
अश्क आँखों में तो होंटों पे तराने आए – आशा प्रभात

 

Raat Aayi Toh Tadapane Ke Bahane Aaye

Ashq Aankho Me Ho Toh Hontho Pe Tarane Aaye – Asha Prabhaat

 

Raat Shayari 2 Lines

 

तमाम रात तिरा इंतिज़ार होता रहा
ये एक काम यही कारोबार होता रहा – रज़ी रज़ीउद्दीन

 

Tamaam Raat Tera Intezaar Hota Raha

Ye Ek Kaam Yahi Karobaar Hota Raha – Raji Rajiuddin

 

ये आधी रात ये काफ़िर अंधेरा
न सोता हूँ न जागा जा रहा है – सिराज लखनवी

 

Ye Aadhi Raat Ye Kaafir Andhera

N Sota Hu N Jaaga Ja Raha Hai – Siraj Lakhnavi

 

रात भर कोई न दरवाज़ा खुला
दस्तकें देती रही पागल हवा – इक़बाल नवेद

 

Raat Bhar Koi N Darwaja Khula

Dastakein Deti Rahi Pagal Hawa – Iqbal Naved

 

Raat Shayari In English

 

फिर आज कैसे कटेगी पहाड़ जैसी रात
गुज़र गया है यही बात सोचते हुए दिन – अमजद इस्लाम अमजद

 

Phir Aah Kaise Kategi Pahaad Jaisi Raat

Guzar Gaya Hai Yahi Baat Sochate Hue Din – Amjad Islam Amjad

 

रात की धड़कन जब तक जारी रहती है
सोते नहीं हम ज़िम्मेदारी रहती है – राहत इंदौरी

 

Raat Ki Dhadkan Jab Tak Jaari Rehati Hai

Sote Nahi Hum Jimmedari Rehati Hai – Rahat Indori

 

रात ख़्वाबों ने परेशाँ कर दिया
सुब्ह आईने ने हैराँ कर दिया – मुसहफ़ इक़बाल तौसिफ़ी

 

Raat Khwabon Ne Pareshaan Kar Diya

Subah Aaino Ne Hairaan Kar Diya – Mushaf Iqbal Tausifi

 

दिन फ़ुर्सतों के चाँदनी की रात बेच कर
हम कामयाब हो गए जज़्बात बेच कर – कुलदीप सलील

 

Din Fursaton Ke Chandani Ki Raat Bechkar

Hum Kaamyaab Ho Gaye jajbaat Bechkar – Kuldeep Saleel

 

आज की रात चराग़ों को बुझा रहने दे
दर्द को हिज्र के पहलू से लगा रहने दे – तसनीम आबिदी

 

Aaj i Raat Charaago Ko Bujha Rahne De

Dard Ko Hijr Ke Pahalu Se Laga Rahne De – Tasneem Aabidi

 

Chandani Raat Shayari

 

चाँद सो गया शायद रात ढलने वाली है
किस उमीद में ऐ दिल फिर भी तू मचलता है – पाशा रहमान

 

Chand So Gaya Shayad Raat Dhalane Waali Hai

Kis Umeed Me Ae Dil Phir Bhi Tu Machalata Hai – Pasha Rehmaan

 

ये तन्हा रात ये गहरी फ़ज़ाएँ
उसे ढूँडें कि उस को भूल जाएँ – अहमद मुश्ताक़

 

Ye Tamha Raat Ye Gehari Fajayein

Use Dhoondhe Ki Us Ko Bhool Jaaye – Ahmad Mushtak

 

गुज़र जाएगी सारी रात इस में
मिरा क़िस्सा कहानी से बड़ा है – हुमैरा राहत

 

Guzar Jayegi Saari Raat Is Me

Mera Kissa Kahani Se Bada Hai – Humaira Rahat

 

नींद इक बार जब उचटती है
बड़ी मुश्किल से रात कटती है – वजाहत हुसैन वजाहत

 

Nind Ik Baar Jab Uchatati Hai

Badi Mushkil Se Raat Katati Hai – Wajahat Husain Wajahat

 

मौत ने सारी रात हमारी नब्ज़ टटोली
ऐसा मरने का माहौल बनाया हम ने – शारिक़ कैफ़ी

 

Maut Ne Saari Raat Hamari Nabj Tatoli

Aisa Marne Ka Mahaul Banaya Hum Ne – Sharik Kaifi

 


Read more –