Fake Love Shayari In Hindi | झूठा प्यार शायरी

Fake Love Shayari In Hindi | झूठा प्यार शायरी

 

बहुत नाज था इस नासमझ दिल को तुम्हारे प्यार पर,
कमबख्त बेवफाई झेल नहीं पाया और टूट कर बिखर गया।

 

Bahut Naaz Tha Is Na-Samajh Dil Ko Tumhare Pyaar Par

Kambakht Bewafaayi Jhel Nahi Paaya Aur Toot Kar Bikhar Gaya

 

तुमने जो सोचा है वैसा ही सही
इश्क़ झूठा है तो झूठा ही सही – ज्योती आज़ाद खतरी

 

Tumne Jo Socha Hai Vaisa hi Sahi

Ishq Jhootha Hai Toh Jhootha Hi Sahi – Jyoti Azaad Khatari

 

झूठा था तेरा प्यार और झूठे थे तुम,
ये सच समझने को न जाने कितने विश्वासों ने आत्महत्या कर ली।

 

Jhootha Tha Tera Pyaar Aur Jhoothe The Tum

Ye Sach Samajhane Ko N Jaane Kitne Vishwaashon Ne Aaatmhatya Kar Li

 

झूठा हँसना ग़लत नहीं
ये ग़म की तुरपाई है – दीपक कामिल

 

Jhootha Hasna Galat Nahi

Ye Gum Ki Turpaayi Hai – Deepak Qamil

 

ये वफ़ा की सख़्त राहें, ये तुम्हारे पाँव नाज़ुक,
न लो इंतकाम मुझसे, मेरे साथ-साथ चल के

 

Ye Wafa Ki Sakht Raahein Ye Tumhare Paaon Najuk

N Lo Intekaam Mujhse Mere Sath Chal-Chal Ke

Fake Love Quotes in Hindi

 

अगर सोना भी है तो आँख खुली रखना
वर्ना तुंम्हारे अपने तुम्हे मरा घोषित कर देंगे

 

Agar Sona Bhi Hai Toh Aaankh Khuli Rakhna

Varna Tumhare Apne Tumhe Mara Ghoshit Kar Denge

 

बहुत अजीब होती है ये मुहब्बत भी
बेवफाई करो तो रोते हैं और वफा करो तो रुलाते हैं।

 

Bahut Ajeeb Hoti Hai Ye Mohabbat Bhi

Bewafaayi Karo Toh Rote Hai Aur Wafa Karo Toh Rulaate Hai

 

नहीं था अंदाज़ा ज़माने के रीति रिवाज़ो का
वक़्त ने संघर्ष से सिखाया रुख परखना हवाओं का

 

Nahi Tha Andaaza Zamane Ke Riti Riwaazon Ka

Wakt Ne Sangharsh Se Sikhaya Rukh Parakhna Hawao Ka

 

न लगे जब तक ठोकर बेवफाई की,
हर किसी को अपनी मुहब्बत पर नाज होता है।

 

N Lage Jab Tak Thokar Bewafayi Ki

Har Kisi Ko Apni Mohabbat Par Naaz Hota Hai

 

प्यार की भी अजीब साजिश है,
तोड़  भी देता है और टूटने भी नहीं देता

 

Pyaar Ki Bhi Ajeeb Saazish Hai

Tod Bhi Deta Hai Aur Tootne Bhi Nahi Deta

Fake Love Status In Hindi

 

क्यों इश्क को बदनाम करते हो ए दुनिया वालों,
अगर महबूब तुम्हारा बेवफा है तो कसूर इश्क का कहां

 

Kyon Ishq Ko Badnaam Karte Ho Ae Duniya Waalon

Agar Mehboob Tumhara Bewafa Hai Toh Kasoor Ishq Ka Kahan

 

न कसमें खाओ तुम किसी पर जान लुटाने की,
यहां अपने ही भूल जाते हैं वादे करने के बाद।

 

N Qasamein Khaao Tum Kisi Par Jaan Lutaane Ki

Yahan Apne Hi Bhool Jaate Hai Vaade Karne Ke Baad

 

तेरी तो फितरत ही थी सब से दिल लगाने की,
हम खुद को यूं ही खुशनसीब समझते रहे।

 

Teri Toh Fitrat Hi Thi Sab Se Dil Lagane Ki

Hum Khud Ko Yun Hi Khushnaseeb Samajhate Rahe

 

जिस मुहब्बत के लिए हम कभी मरा करते थे,
ए मेरे दोस्त आज उसी मुहब्बत के मारे हैं।

 

Jis Mohabbat Ke Liye Hum Kabhi Mara Karte The

Ae Mere Dost Aaj Usi Mohabbat Ke Maare Hai

 

ए खुदा मेरे टूटे दिल की कोई दवाई तो दे देता,
उसकी बेवफाई से अच्छा उसकी जुदाई दे देता।

 

Ae Khuda Mere Dil Ki Koi Dawaai Toh De Deta

Uski Bewfaayi Se Achcha Uski Judaayi De Deta

 

छोड़ दिया उसने हमें भीगे कागज़ की तरह,
ना लिखने के काबिल छोड़ा न जलने के

 

Chhod Diya Usne Hamein Bheege Kagaz Ki Tarah

Na Likhne Ke Qaabil Chhoda N Jalne Ke

 

हमें क्या मालूम था उनसे दिल्लगी का ये अंजाम होगा,
करके बेवफाई हमसे यूं मंजर बर्बादी का सरेआम होगा।

 

Hamein Kya Maloom Tha Unse Dillagi Ka Yeh Anjaam Hoga

Karke Bewfaayi Hamse Yun Manjar Barbaadi Ka Sareaam Hoga

 

आदतन तुम ने कर दिए वादे
आदतन हम ने ऐतबार किया

 

Aadtan Tumne Kar Diye Vaade

Aadtan Hamne Aitbaar Kiya

 

मुहब्बत का आखिरी अंजाम यही होता है,
बेवफाई का मारा सच्चा आशिक उम्र भर रोता है।

 

Mohabbat Ka Aakhiri Anjaam Yahi Hota Hai

Bewfaayi Ka Maara Sachcha Aashiq Umr Bhar Rota Hai

 

कुछ करना ही है तो वफा करो मेरे दोस्त,
बेवफाई तो सबने की है मजबूरी के नाम पर।

 

Kuch Karna Hi Hai Toh Wafa Karo Mere Dost

Bewafaayi Toh Sabne Ki Hai Majboori Ke Naam Par

 

हजारों आशिक इश्क की खातिर इश्क के रास्ते पर फना हो गए,
इक मेरी मुहब्बत में न जाने क्या कमी रही, वो बेवफा हो गए।

 

Hazaaro Aashiq Ishq Ki Khaatir Ishq Ke Rasste Par Fana Ho Gaye

Ik Meri Mohabbat Me N Jaane Kya Kami Rahi, Wo Bewafa Ho Gaye

 

Fake Love Shayari In Hindi | झूठा प्यार शायरी

 

नजदीकियां दूर होती गई ख्वाहिशें मजबूर होती गई
दुआओं के असर लापता हो गए बद्दुआएं सब मंजूर होती गई

 

Najdikiyaan Door Hoti Gayi Khwahishein Majboor Hoti Gayi

Duaaon Ke Asar Lapata Ho Gaye Badduaayein Sab Manjoor Hoti Gayi

 

इक जमाने में हम उनकी मुहब्बत के कसीदे पढ़ा करते थे,
उनकी बेवफाई ने इस कदर तोड़ा की गीत वफा के भूल गए।

 

Ik Zamane Me Hum Unse Mohabbat Ke Kaseede Padha Karte The

Unki Bewafaayi Ne Is Qadar Toda Ki Geet Wafa Ke Bhool Gaye

 

मुलाकात जरुरी है अगर रिश्ते निभाने हो,
वरना लगाकर भूल जाने से पौधे भी सुख जाते हैं।

 

Mulakaat Zarooru Hai Agar Rishte Nibhaane Ho

Varna Lagakar Bhool Jaane Se Oaudhe Bhi Sookh Jaate Hai

 

आँखें खुली रही और खुदा जाने कितनी रातें बीत गई
मैं मोहब्बत करता रहा और उसकी नफरत जीत गई

 

Aankhe Khuli Rahi Aur Khuda Jaane Kitni Raatein Beet Gayi

Mai Mohabbat Karta Raha Aur Nafrat Jeet Gayi

 

कैसे भरोसा करें तेरी इस मुहब्बत पर,
जब बाजार में तेरे नाम की बेवफाई बिकती है।

 

Kaie Bharosa Karein Teri Is Mohabbat Par

Jab Bazaae Me Tere Naam Ki Bewafaayi Bikti Hai

 

मुहब्बत का नतीजा जमाने में हमने बुरा ही देखा,
दावा जो करते थे वफा का, उन्हीं को बेवफा होते देखा।

 

Mohabbat Ka Nateeja Zamane Me Hamne Bura Hi Dekha

Daawa Jo Karte The Wafa Ka, Unhi Ko Bewafa Hote Dekha

 

वो तेरे खत तेरी तस्वीर और सूखे फूल,
उदास करती हैं मुझ को निशानियाँ तेरी

 

Wo Tere Khat Teri Tasveer Aur Sookhe Phool

Udaas Karti Hai Mujh Ko Nisaaniyaan Teri

 


Read More –