Dil Love Shayari In Hindi | दिल लव शायरी

 

Dil Love Shayari In Hindi | दिल लव शायरी

 
 

यूँ तसल्ली दे रहे हैं हम दिल-ए-बीमार को,
जिस तरह थामे कोई गिरती हुई दीवार को

 

Yun Tasalli De Rahe Hai Hum Dil-e-Bimaar Ko
Jis Tarah Thaame Koi Girti Hui Deewar Ko – Qateel Shifaai

 

छुपी होती है लफ्जों में बातें दिल की 
लोग शायरी समझ के बस मुस्कुरा देते हैं

 

Chupi Hoti Hai Lafzon Me Baatein Dil Ki
Log Shayari Samajh Ke Bas Muskura Dete Hai

 

इजहार-ए-इश्क करूं या पूछ लूं तबियत उनकी,
ऐ दिल कोई तो बहाना बता उनसे बात करने का

 

Izhaar-e-Ishq Karun Ya Puch Loon Tabiyat Unki
Ae Dil Koi Toh Bahana Bata Unse Baat Karne Ki

 

हम ने सीने से लगाया दिल न अपना बन सका,
मुस्कुरा कर तुम ने देखा दिल तुम्हारा हो गया

 

Humne Seene Se Lagaya Dil N Apna Ban Saka
Muskura Kar Tumne Dekha Dil Tumhara Ho Gaya

 

Dil Shayari Images

 

हारा हुआ सा लगता है वजूद मेरा,
हर एक ने लूटा है दिल का वास्ता देकर

 

Haara Hua Sa Lagta Hai Wajood Mera
Har Ek Ne Loota Hai Dil Ka Vaasta Dekar

 

दिल को तिरी चाहत पे भरोसा भी बहुत है
और तुझ से बिछड़ जाने का डर भी नहीं जाता -अहमद फ़राज़

 

Dil Ko Teri Chahat Pe Bharosa Bhi Bahut Hai
Aur Tujhse Bichad Jaane Ka Darr Bhi Nahi Jaata – Ahmad Faraz

 

तू भी खामख्वाह बढ़ रही है ऐ धूप,
इस शहर में पिघलने वाले दिल ही नहीं रहे

 

Tu Bhi Khaam Kha Badh Rahi Hai Ae Dhoop
Is Shehar Me Pighalne Waale Dil Hi Nahi Rahe

 

हमसे भी पूछ लो कभी हाल-ए-दिल हमारा,
कभी हम भी कह सकें की दुआ है आपकी

 

Humse Bhi Pooch Lo Haal-e-Dil Hamara
Kabhi Hum Bhi Keh Sake Ki Dua Hai Aapki

 

Dard e Dil Shayari In Hindi

 

तुम्हारा दिल मिरे दिल के बराबर हो नहीं सकता
वो शीशा हो नहीं सकता ये पत्थर हो नहीं सकता -दाग़ देहलवी

 

Tumhara Dil Mere Dil Ke Barabar Ho Nahi Sakta
Wo Sheesha Ho Nahi Sakta Ye Patthar Ho Nahi Sakta – Dagh Dehalvi

 

सौ बार कहा दिल से चल भुल भी जा उसको 
हर बार कहा दिल ने तुम दिल से नही कहते 

 

Sau Baar Kaha Dil Se Chal Bhool Bhi Ja Usko
Har Baar Kaha Dil Ne Tum Dil Se Nahi Kehate

 

तेरा नाम था आज किसी अजनबी की जुबान पे
बात तो जरा सी थी, पर दिल ने बुरा मान लिया

 

Tera Naam Tha Aaj Kisi Ajanabi Ki Jubaan Pe
Baat Toh Zara Si Thi, Par Dil Ne Bura Maan Liya

 

Zakhmi Dil Ki Shayari

 

यूँ तो हर बात सहने का हौसला है इस दिल को
तेरा इक नाम ही मुझकों कमज़ोर कर देता है

 

Yun Toh Har Baar Sahane Ka Hausala Hai Is Dil Ko
Tera Ik Naam Hi Mujhko Kamjor Kar Deta Hai

 

जो निगाह-ए-नाज़ का बिस्मिल नहीं
दिल नहीं वो दिल नहीं वो दिल नहीं -मुबारक अज़ीमाबादी

 

Jo Nigaah-e-Naaz Ka Bismil Nahi
Dil Nahi Wo Dil Nahi Wo Dil Nahi – Mubarak Ajeenabadi

 

आज फिर दिल ने इक तमन्ना की,
आज फिर दिल को हमने समझाया

 

Aaj Phir Dil Ne Ik Tamanna Ki
Aaj Phir Dil Ko Hamne Samjhaya

 

Dil Ko Chune Wali Shayari

 

काश की खुदा ने दिल शीशे के बनाये होते,
तोड़ने वाले के हाथों में जख्म तो आए होते

 

Kash Ki Khuda Ne Dil Sheeshe Ke Banaye Hote
Todane Waale Ke Hathon Me Zakhm Toh Aaye Hote

 

जुल्फों को उंगलियो से किनारे किया ना कर 
दिल मेरा आवारा है इसे और बिगाड़ा ना कर

 

Zulfon Ko Ungaliyon Se Kinaare Kiya N Kar
Dil Mera Awaara Hai Ise Aur Bigaada Na Kar

 

जरा सा बात करने का तरीका सीख लो तुम भी,
उधर तुम बात करते हो इधर दिल टूट जाता है

 

Zara Sa Baat Karne Ka Tareeka Seekh Lo Tum Bhi
Udhar Tum Baat Karte Ho Idhar Dil Toot Jaata Hai

 

Dil Todne Wali Shayari

 

दिल टूटने से थोड़ी सी तकलीफ़ तो हुई
लेकिन तमाम उम्र को आराम हो गया

 

Dil Tootane Se Thodi Si Takleef Toh Hui
Lekin Tamaam Umr Ko Araam Ho Gaya

 

वो दिल लेकर हमें बेदिल ना समझें उनसे कह देना,
जो हैं मारे हुए नज़रों के उनकी हर नज़र दिल है – मीर तक़ी मीर

 

Wo Dil Lekar Hamein Be-Dil Na Samjhe Unse Keh Dena
Jo Hai Maare Nazaron Ke Unki Har Nazar Dil Hai Mir Taki Mir

 

तेरा नाम था आज अजनबी की जुबान पर,
बात जरा सी थी पर दिल ने बुरा मान लिया

 

Tera Naam Tha Aaj Ajanabi Ki Jubaan Par
Baat Zara Si Thi Par Dil Ne Bura Maan Liya

 


 
Read More –