Best Love Shayari In Hindi | लव शायरी इन हिन्दी | प्यार पर शायरी‎

 

Best Love Shayari In Hindi | लव शायरी इन हिन्दी | प्यार पर शायरी‎

 

 मेरी ख़ुदपरस्ती को मत आजमाओ
शाम-ए-तलब है कि-आज तुम आओ – Nihal Srivastava

 

Meri Khudparasti Ko Mat Aajmaao
Shaam-e-Talab Hai Ki Aaj Tum Aao – Nihal Srivastava

 

नाज़-ए-उल्फत होता है मुझे कभी-कभी
वो हर्फ़ है अगर मेरा तो तू है शायरी मेरी – Nihal Srivastava

 

Naaz-e-Ulfat Hota Hai Mujhe Kabhi-Kabhi
Wo Harf Hai Agar To Tu Hai Shayari Hai Meri – Nihal Srivastava

 

सुना है लोग उसे आँख भर के देखते हैं
सो उसके शहर में कुछ दिन ठहर के देखते हैं – Ahamad Faraz

 

Suna Hai Log Use Aankh Bhar Ke Dekhte Hai
Spo Uske Shehar Me Kuch Din Thehar Ke Dekhte Hai  – Ahamad Faraz

 

मैं रोज़ उससे टकराता हूं
हर रोज़ एक नया हादसा होता है।– Nihal Srivastava

 

Mai Roz Usase Takraat Hoon
Har Roz Ek Naya Hadasa Hota Hai – Nihal Srivastava

 

मेरे दिल की बर्बादी तुमसे न देखी जायेगी
खुदा के वास्ते यूँ न मुस्कुराया करो – Nihal Srivastava

 

Mere Dil Ki Barbaadi Tumse N Dekhi Jayegi
Khuda Ke Vaaste Yun N Muskuraaya Karo – Nihal Srivastava

 

हर वक्त आती है गले में उस नाम की हिचकी
ये याद है उसकी या तीखी अदा है उसकी – Nihal Srivastava

 

Har Wakt Aati Hai Gale Me Us Naam Ki Hichki
Ye Yaad Hai Uski Ya Teekhi Ada Hai Uski – Nihal Srivastava

 

किसी के भी निगाह से बिक जाते है हम
हाय! कितने सस्ते है हम – Nihal Srivastava

 

Kisi Ke Bhi Nigaah Se Bik Jaate Hai Hum
Haay! Kitne Saste Hai Hum – Nihal Srivastava

 

पूरे श्रृंगार में देख उसे आईने टूट जाते है
हम तो कमज़ोर दिल वाले है..मर ही जाएंगे – Nihal Srivastava

 

Poore Shringaar Me Dekh Use Aaine Toot Jaate Hai
Hum Toh Kamjor Dil Waale Hai…Mar Hi Jayenge – Nihal Srivastava

 

Beautiful Hindi Love Shayari / Best Love Shayari

 

मैं पलकों पर बिठाता तुम्हे अपनी रानी बनाता
किसी दूर देश के शहजादे की कहानी सुनाता – Nihal Srivastava

 

Mai Palkon Par Bithaata Tumhe Apni Raani Banata
Kisi Door Desh Ke Shehzaaade Ki Kahani Sunaata – Nihal Srivastava

 

जिस नाम में इतनी सीरत है
कितनी दिलकश उस यार की सूरत होगी – Nihal Srivastava

 

Jis Naam Me Itni Seerat Hai
Kitni Dil-Kash Us Yaar Ki Soorat Hogi – Nihal Srivastava

 

शोख चंचल ये मौसम और शायराना सितारे
ये गुल क्या जाने कितने सुर्ख आरिज़ तुम्हारे – Nihal Srivastava

 

Shokh Chanchal Ye Mausam Ye Shayaraana Sitaare
Ye Gul Kya Jaane Kitne Surkh Aariz Tumhare – Nihal Srivastava

 

मैं ख़याल हूं किसी और का मुझे सोचता कोई और है
मैं नसीब हूं किसी और का मुझे मांगता कोई और है – Saleem Kaushar

 

Mai Khayal Hoon Kisi Aur Ka Mujhe Sochta Koi Aur Hai
Mai Naseeb Hoon Kisi Aur Ka Mujhe Mangata Koi Aur Hai – Saleem Kaushar

 

मुझे बहुतो ने पत्थर मारा
लेकिन जो दिल पे लगा, वो तेरा था

 

Mujhe Bahuton Ne Patthar Maara
Lekin Jo Dil Pe Laga Wo Tera Tha

 

अदायें भी है, नज़ाकत भी है, शरारत भी है
बस एक अकल ही नही है, मेरी मोहब्बत में

 

Adayein Bhi Hai, Nazakat Bhi Hai, Shararat Bhi Hai
Bas Ek Akal Hi Nahi Hai, Meri Mohabbat Me

 

थोड़ा तुम चलो
थोड़ा हम चले
आओ सफर को मुकम्मल बना देते है – Nihal Srivastava

 

Thoda Tum Chalo
Thoda Hum Chale
Aao Safar Ko Muqammal Bana Dete Hai – Nihal Srivastava

 

खुद-ब-खुद शामिल हो गए तुम मेरी सांसो में
हम सोच के करते तो फिर मोहब्बत न करते

 

Khud-B-Khud Shamil Ho Gaye Tum Meri Sanso Me
Hum Soch Ke Karte Toh Phir Mohabbat N Karte

 

वो कहीं भी गया लौटा तो मेरे पास आया,
बस यही बात है अच्छी मेरे हरजाई की -Parveen Shakir

 

Wo Kahin Bhi Gaya Lauta Toh Mere Pass Aaaya
Bas Yahi Baat Hai Achchi Mere Harjaai Ki -Parveen Shakir

 

ये शफ़क़ चाँद सितारे नही अच्छे लगते
तुम नही हो तो नज़ारे नही अच्छे लगते Indira verma

 

Ye Shafak Chand Sitaare Nahi Achche Lagte
Tum Nahi Ho Toh Nazare Nahi Achche Lagte Indira verma

 

मोहल्ले वाले समझते हैं की गरीब हूँ मैं
उनको मालूम ही नही के तुम मेरे हो

 

Mohalle Waale Samajhate Hai Ki Gareeb Hoon Mai
Unko Malomm Hi Nahi Ke Tum Mere Ho

 

मेरे ख़त पहुंचाती नहीं है खुद रख लेती है
मुझको कुछ-कुछ शक होता है तेरी सहेली पर

 

Mere Khat Pahuchaati Hai Khud Rakh Lrti Hai
Muhko Kuch-Kuch Shak Hota Hai Teri Saheli Par

 

कुछ तो हिसाब करो हमसे
इतनी मोहब्बत उधार कौन रखता है

 

Kuch Toh Hisaab Karo
Itni Mohabbat Udhaar Kaun Rakhta Hai

 

बोलो करोगी क्या लहँगा लेकर
साड़ी में ही ख़ूब क़यामत लगती हो

 

Bolo Karogi Kya Lehanga Lekar
Saree Me Hi Khoob Qayamat Lagti Ho

 

वही चेहरा, वही आँखे, वही होंठ
तुम तो मेरे ख्वाबों वाली लड़की हो

 

Wahi Chehara, Wahi Aankhe, Wahi Honth
Tum Toh Mere Khwabo Waali Ladki Ho

 

कुछ तो ज़िक्र करो तुम उस की क़यामत बाँहों का
वो जो सिमटते होंगे उन में वो तो मर जाते होंगे। – जॉन एलिया

 

Kuch Toh Zikr Karo Tum Uski Qayamat Bahon Ka
Wo Jo Simatate Honge Unme Wo To Mar Jaate Honge -John Elia

 

एहसास बनकर यूँ दिल में बसे हो,
एक तुम ही तो हो, जो निग़ाहों को जंचे हो

 

Ehsaas Bankar Yun Dil Me Base Ho
Ek Tum Hi Toh Ho, Jo Nigaahon Ko Janche Ho

 

तू अगर हमसफ़र नहीं होती।
शाम होती सहर नहीं होती। -रजनीश सिंह

 

Tu Agar Humsafar Nahi Hoti
Shaam Hoti Sahar Nahi Hoti -Rajnish Singh

 

मेरे गीत, ग़ज़ल और नज़्म का उन्वान तुम हो,
मेरा मुझमें कुछ भी नहीं सिर्फ़ तुम ही तुम हो।

 

Mere Geet, Ghazal Aur Nazm Ka Unvaan Tum Ho
Mera Mujhme Kuch Bhi Nahi Sirf Tum Hi Tum Ho

 

नहीं आता सुकून तेरे बिना दिल को
तू आदत है, तलब है, नशा है, क्या है

 

Nahi Aata Sukoon Tere Bina Dil Ko
Tu Aadat Hai, Talab Hai, Nasha Hai, Kya Hai

 

किस नाज से कहते हैं वो झुंझला कर,
आप तो हमें करवटें भी बदलने नही देते

 

Kis Naaz Se Kehate Hai Wo Jhunjhla Kar
Aap Toh Hamein Kawatein Bhi Badalne Nahi Dete

 

जब भी चूम लेता हूँ उन हसीन आँखों को,
सौ चराग़ अँधेरे में झिलमिलाने लगते हैं -कैफ़ी आज़मी

 

Jab Bhi Choom Leta Hoon Un Haseen Aankho Ko
Sau Charaag Andhere Me Jhilmilaane Lagte Hai -Kaifi Azami

 

पहली मुलाकात थी हम दोनों बेबस थे
वो ज़ुल्फ़ें ना संभाल पायी और मैं खुद को

 

Pahli Milakaat Thi Hum Dono Bebas The
Wo Zulfein Na Sambhal Paayi Aur Mai Khud Ko

 

तकलीफ होगी आपके नाजुक ख्यालों को,
यूं अकेले बैठकर हमें सोचा न कीजिए

 

Takleef Hogi Aapke Najuk Khayalon Ko
Yun Akele Baithkar Hamein Socha N Kijiye

 


 
Read More –