Beautiful Hindi Love Shayari | शानदार लव शायरी हिन्दी

Beautiful Hindi Love Shayari | शानदार लव शायरी हिन्दी

 

वो दिल ही क्या तेरे मिलने की जो दुआ न करे
मैं तुझे भूल के ज़िंदा रहूं ख़ुदा न करे– क़तील शिफ़ाई

 

Wo Dil Hi Kya Tere Milne Ki Jo Dua N Kare
Mai Tujhe Bhool Ke Zinda Rahu Khuda N Kare -Qateel Shifaai

 

तरसती नज़रो ने हर पल आपको ऐसे मागा
जैसे हर अमावस में चांद मागा

 

Tarasti Nazron Ne Har Pal Aapko Aise Maanga
Jaise Har Amawas Me Chand Maanga

 

हमको ही क्यों देते हो प्यार का इल्जाम 
जरा खुद से भी पूछों इतने प्यारे क्यों हो 

 

Hamko Hi Kyu Dete Ho Pyaar Ka Ilzaam
Zara Khud Se Bhi Pucho Itne Pyaare Kyo Ho

 

दीवानगी मे कुछ ऐसा कर जाएंगे
महोब्बत की सारी हदे पार कर जाएंगे

 

Deewangi Me Kuch Aisa Kar Jayenge
Mohabbat Ki Saari Hadein Paar Kar Jayenge

 

वो तो शायरों ने लफ्जो से सजा रखा है,
वरना मोहब्बत इतनी भी हसीँ नही होती

 

Wo To Shayron Ne Lafzon Se Saza Rakha Hai
Varna Mohabbat Itni Bhi Hasi Nahi Hoti

 

ना समेट सकोगे क़यामत तक जिसे तुम
कसम तुम्हारी तुम्हें इतनी मोहब्बत करते हैं

 

Na Samet Sakoge Qayamat Tak Jise Tum
Kasam Tumhari Tumhe Itni Mohabbat Karte Hai

 

सावन की बूंदों में झलकती है उनकी तस्वीर, 
आज फिर भीग बैठे हैं उन्हें पाने की चाहत में

 

Savan Ki Boondo Me Jhalakti Hai Unki Tasveer
Aaj Phir Baithe Hai Inhe Paane Ki Chahat Me

 

अपनी कलम से दिल से दिल तक की बात करते हो
सीधे सीधे कह क्यों नहीं देते हम से प्यार करते हो

 

Apni Kalam Se Dil Se Dil Tak Ki Baat Karte Ho
Seedhe-Seedhe Keh Kyo Nahi Dete Hum Se Pyaar Karte Ho

 

जिसने भर दिया दामन को बेरंग फूलों से
उनके एक दर्द पर हम क्यों तड़पने लगते है

 

Jisne Bhar Diya Daman Ko Berang Phoolon Se
Usne Ek Dard Par Ham Kyo Tadapne Lagte Hai

 

दिल के बाज़ार में दौलत नही देखी जाती
प्यार अगर हो जाये तो सूरत नही देखी जाती

 

Dil Ke Bazaar Me Daulat Nahi Dekhi Jaati
Pyaar Agar Ho Jaaye Toh Soorat Nahi Dekhi Jaati

 

मेरी आँखों में झाँकने से पहले, जरा सोच लीजिये ऐ हुजूर..
जो हमने पलके झुका ली तो कयामत होगी, और हमने नजरें मिला ली तो मुहब्बत होगी

 

Meri Aankho Me Jhakne Se Pahle Zara Soch Lijiye Ae Huzoor
Jo Hamne Palke Jhuka Li To Qayamat Hogi Aur Nazarein Mila Li Toh Mohabbat Hogi

 

तुम वक़्त वक़्त पर प्यार की दवाइयां दिया करो,
हमे आदत है रोज तेरे प्यार में बीमार होने की

 

Tum Wakt-Wakt Par Pyaar Ki Dawaiyaan Diya Karo
Hamein Adat Hai Roz Pyaar Me Bimaar Hone Ki

 

टपकती है निगाहों से, झलकती है अदाओं से,
मोहब्बत कौन कहता है की पहचानी नहीं जाती

 

Tapakati Hai Nigaahon Se, Jhalakati Hai Adaon Se
Mohabbat Kaun Kehata Hai Ki Pehchaani Nahi Jaati

 

तमाम शहर से मैं जंग जीत सकता हूं
मगर मैं तुमसे बिछड़ते ही हार जाऊंगा

 

Tamaam Shehar Se Mai Jung Jeet Sakta Hoon
Magar Mai Tumse Bicharte Hi Haar Jaunga

 

दिन में कब भला रात की रानी ने फ़िज़ा महकाई है,
इसीलिए शायद शहर सोया और तेरी खुश्बू आई है

 

Din Me Kab Bhala Raat Ki Raani Ne Fiza Mehkaai Hai
Isliye Shayad Shehar Soya Aur Teri Khusbu Aayi Hai

 

बारिश में भीगने के ज़माने गुजर गए
वो शख्स मेरे शौक चुरा कर चला गया

 

Barish Me Bheegne Ke Zamane Guzar Gaye
Wo Shaks Mere Shauk Chura Kar Chala Gaya

 

हमसे न हो सकेगी मोहब्बत की नुमाइश,
बस इतना जानते है तुम्हे चाहते है हम

 

Hamse N Ho Sakegi Mohabbat Ki Numaish
Bas Itna Jaante Hai Tumhe Chahate Hai Hum

 

पढ़ लीजिये निगाहो की किताब,
कब तक मुझे तुम लब्जो से तरासते रहोगे

 

Padh Lijiye Nigaahon Ki Kitaab
Kab Tak Mujhe Tum Lafzon Se Tarasate Rahoge

 

हज़ार बार ली है तुमने तलाशी मेरे दिल की,
बताओ कभी कुछ मिला है इसमें प्यार के सिवा

 

Hazaar Baar Li Hai Tumne Talashi Mere Dil Ki
Batao Kabhi Kuch Mila Hai Isme Pyaar Ke Siva

 

दिल में किसी के राह किए जा रहा हूँ मैं
कितना हसीं गुनाह किए जा रहा हूँ मैं -जिगर मुरादाबादी

 

Dil Me Kisi Ke Raah Kiye Ja Raha Hu Mai
Kitna Haseen Gunaah Kiye Ja Raha Hu Mai -Jigar Moradabadi

 

करवटें बदलूँ इधर, उधर या चाहे जिधर
हर तरफ सिर्फ तुम ही तुम हो

 

Karwatein Badlu Idhar-Udhar Ya Jidhar
Har Taraf Sirf Tum Hi Tum Ho

 

मुझे ये डर है तेरी आरजू न मिट जाये
बहुत दिनों से तबियत मेरी उदास नहीं

 

Mujhe Ye Darr Hai Teri Aarju N Mit Jaaye
Bahut Dino Se Tabiyat Meri Udaas Hai

 


 
Read More –