Yun Hi Be-Sabab – Bashir Badr

October 31, 2019 Nihal Srivastava 0

Yun Hi Be-Sabab – Bashir Badr यूँ ही बे-सबब   यूँ ही बे-सबब न फिरा करो,कोई शाम घर में भी रहा करो वो ग़ज़ल की […]

Mai Chala Jaun Toh - Nihal Srivastava

Mai Chala Jaun Toh – Nihal Srivastava

October 13, 2019 Nihal Srivastava 0

मैं चला जाऊँ तो   मैं चला जाऊँ तो तुम्हारी दास्तान का क्या होगाइतने दिन से खामोश तेरी जुबान का क्या होगा   कभी तूने […]

tum jaano gair se - mirza ghalib

Mirza Ghalib Ghazal -Tum Jaano Tum Ko Gair Se

October 9, 2019 Nihal Srivastava 0

बचते नहीं मुवाख़ज़ा-ए-रोज-ए-हश्र सेक़ातिल अगर रक़ीब है तो तुम गवाह हो   क्या वो भी बे-गुनह-कुश ओ हक़-ना-शनास हैंमाना कि तुम बशर नहीं ख़ुर्शीद ओ […]